पंचायत चुनाव : आचार संहिता लागू…इस प्रकार से होंगे चुनाव

राज्य

चुनाव आयुक्त पीएस मेहरा ने बताया कि चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही संबंधित निर्वाचन क्षेत्रों में आदर्श आचरण संहिता के प्रावधान तुरंत प्रभाव से लागू हो गए हैं, जो चुनाव प्रक्रिया समाप्ति तक लागू रहेंगे। आयोग द्वारा राज्य सरकार को आदर्श आचरण संहिता की प्रभावी पालना के लिए आवश्यक निर्देश दिए गए हैं।

संबंधित पंचायती राज संस्थाओं में विभिन्न विभागों के विकास कार्य जिसके कार्यादेश आचार संहिता के प्रभाव में आने से पूर्व ही जारी किए जा चुके हैं या जो विकास कार्य पूर्व से ही चल रहे हैं, वे सभी आचार संहिता से प्रभावित नहीं होंगे।

नई स्कीम, नए विकास कार्य एवं नए कार्यादेश आचार संहिता के लागू होने के बाद पूर्णतया प्रतिबंधित रहेंगे। राज्य में कार्मिकों के स्थानांतरणों पर (अतिआवश्यक सेवाओं को छोड़कर) भी पूर्णतया प्रतिबंध रहेगा। आवश्यक होने पर आयोग से अनुमति लेनी होगी।

चुनाव नियंत्रण कक्ष की स्थापना

आयोग मुख्यालय एवं जिला स्तर पर चुनाव कार्य से संबंधित सूचनाओं की जानकारी प्रदान करने एवं प्राप्त शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही करने के लिए चुनाव नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जायेगा जिसका टेलीफोन नम्बर 0141-2227786 है यह नियंत्रण कक्ष प्रतिदिन सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक कार्य करेगा।

प्रथम चरण 1003 सरपंचों का चुनाव

  • 16 सितंबर को लोकसूचना
  • 19 सितंबर को प्रातः 10 से 5 बजे तक नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत किए जा सकेंगे।
  • 20 को नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा की जााएगी। इसी दिन 3 बजे तक नाम वापसी।
  • 27 सितंबर तक मतदान दल निर्वाचन स्थल पर पहुंचेंगे ।
  • 28 सितंबर सुबह 7.30 से शाम 5.30 बजे तक मतदान करवाया जाएगा। मतदान समाप्ति के बाद सभी पंचायत मुख्यालयों पर मतगणना करवाई जाएगी।

चरण 2 : 1028 सरपंचों-9662 पंचों के लिए 16 को लोकसूचना

  • 23 सितंबर को 10 से 5 बजे तक नाम निर्देशन
  • 24 सितंबर को नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा की जााएगी। 3 बजे तक नाम वापसी। चुनाव प्रतीकों का आवंटन और अभ्यर्थियों की सूची का प्रकाशन 24 सितंबर को नाम वापसी के समय के बाद कर दी जाएगी।
  • 2 अक्टूबर तक मतदान दल निर्वाचन स्थल पर पहुंचेंगे।
  • 3 अक्टूबर सुबह 7:30 से शाम 5:30 बजे तक मतदान। मतगणना कराई जाएगी।
  • 4 अक्टूबर को उपसरपंच का चुनाव होगा।

चरण 3 : 943 सरपंचों-8661 पंचों के लिए 16 को लोकसूचना

  • 26 सितंबर को प्रातः 10 से 5 बजे तक नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत किए जा सकेंगे।
  • 27 सितंबर को नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा की जाएगी। 3 बजे तक नाम वापसी चुनाव प्रतीकों का आवंटन और अभ्यर्थियों की सूची का प्रकाशन
  • 5 अक्टूबर तक मतदान दल निर्वाचन स्थल पर पहुंचेंगे और 6 अक्टूबर सुबह 7:30 से शाम 5:30 बजे तक मतदान फिर मतगणना हाेगी।
  • 7 अक्टूबर को उपसरपंच का चुनाव होगा।

चरण 4 : 874 सरपंचों-8290 पंचों के लिए 16 को लोकसूचना

  • 30 सितंबर को सुबह 10 से 5 बजे तक नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत किए जा सकेंगे।
  • 1 अक्टूबर को नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा की जाएगी। इसी दिन 3 बजे तक नाम वापसी की जा सकती है।

Leave a Reply